Get Paid to Write Whatsapp Status Earn Rs 1000 - Rs 10000 Per Month! Click Here To Start Now

Arti jain AR jain - Page: 3

LIKE US ON If you 'like' us, we'll LOVE you!
Writer of both English and Hindi poetry, articles, essays
 
हर पल तुम्हें है इन्तजार और हमे उस इन्तजार के हर पल मे है इकरार

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
घर मे गुलाब के पोधे तैयार करने भी जरूरी है भैया, इस महगाई के जमाने मे अगर बनना है किसी का सैया

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
आँखो की तो अदा है जनाब, इस पर फिदा है बड़े - बड़े नवाब

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
एक वादा किया था इस जनम मे नही अगले जनम मे मिलेंगे, जो अब ना खिले वो फूल उस पार खिलेंगे

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
करीब होते हैं वो ही भरोसा तोड़ते है, बुरे वक्त मे सबसे पहले वो ही मुह मोड़ते है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
Whatsapp Status
New Whatsapp Status
वक्त की थी जिनके पास कमी आज वही सवाल करते है क्यूँ है यह नमी

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
ना जाने क्यूँ उठते हैं यह सवाल आज भी मचा देते है अजीब सा बवाल

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
कोन कहता है खामोशी खामोश है खामोशी मे छिपा अल्फाजो से भी बड़ा जोश है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
किसी की जगह कभी नहीं भरती है यह आँखे आज भी उस एक शख्स की तलाश करती है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
नजरिए की बात है जिन आँखो को आप कहते हो कातील, उन्होने ही आपकी तस्वीर को दिल में उतार कर अपनो मे किया है शामिल

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
ना जाने क्यूँ वो कातिल पहनती है यह हिजाब, यह खुली निगाहे ही तो लिखती है मोहब्बत की किताब

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
साँस लेते जब सिसकी सुनाई देती है, तभी रोते अल्फाजो से शायरी बनती है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
दुखती रग को छूना ही शायरी है शायरी ही दुख - सुख की अनकही डायरी है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
कागज ही तो ठिकाना है जहा मेरे लब्ज गिरते हैं, मेरे जज्बात इन कागज के टुकड़ों पर निखरते हैं

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
आज शायद मेरा वक्त खराब है लेकिन मेरा संघर्ष देगा एक दिन सबको जवाब

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
मोहब्बत बोहत रुलाती है, आंसुओ के बिस्तर पर सुलाती है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
कितने बीते साल, अब समझ आयी उनकी बेवफाई की चाल

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
रेशमी ख्वाब कागज पर मचलते है, हमे तो इन कागज के लब्जो पर ही हमारे नवाब मिलते हैं

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
उसे ही सलाम करता है यह जमाना जिसे आता है धन कमाना

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
किसी की आंख नहीं करू नम, भले ही मेरी तिजोरी मे धन पड़ जाए कम

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
Whatsapp Status
Status For Whatsapp
 
दया का रखो भाव , मत खेलो धोखे वाला दाव

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
अजीब है यह दोर मेरी अपनी गलतीया मचा रही है शोर

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
मेरे रब तू मत जाना मुझसे रूठ, तू सब से पहला सच है नही कोई है जूठ

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
एक ही तस्वीर आँखो के आगे गुमती है, वो मासूम निगाहें मदद के लिए मुझे ढूंढती है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
किसी भी एहसास के आगे बेइंतिहा मत लगाना, किसी भी रिश्ते में कदम हद से ज्यादा मत बड़ाना

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
खूद की आँख में जिंदा हो तो सोच लेना तुम खुदा के नेक बंदे हो

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
टूटे दिल की आवाज है, आने वाले तूफान का आगाज है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
कब बनूंगी परायी खुशी का कारण, कब पराये दुख को कर लूँगी अपने अंदर धारण

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
तानों से मत दूखाना किसी का दिल, अपने अल्फाजो को मत बनाना कभी तुम कील

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
ए मेरे रब मेरी एक दुआ कर ले कबुल, चाहे फिर तु बदले मे मेरी धड़कन ले वसूल

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
हम तो ख्वाबो को बगावत कहते है, मोहब्बत के उलझे सवालात कहते है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
नहीं चाहिए खैरात का उजाला , मान के साथ चाहिए फिर चाहे मिले अंधेरा रखवाला

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
याद उन्हें करते हैं जिन्हें हम भूलते हैं, हमारी साँसो के धागे तो आज भी उसी वक्त मे उलझते है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
कही से थोड़ा सा प्यार चाहिए, मुझे सच्चा यार चाहिए

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
सच्चे सूख के लिए इच्छाओं का अंत कर बन जाओ संत

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
मेरे आंचल पर लगा के दाग, अब वो गुलाब ढूंढ रहा है नया बाग

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
घर की याद बोहत सताती है, हसते लबो को रुलाती है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
काश दिया होता मेरे अपनों ने साथ तो थाम लेती उन अनाथों का हाथ

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
जरूरत के वक्त किसी ने साथ नहीं दिया, जब डूब रही थी किसी ने हाथ नहीं दिया

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
कैसे चुन ली परायी बाहो को, नहीं भूल सकती उन गलत राहो को

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
मेरे रब इस काबिल बना खाली ना जाए कोई मेरे दर से, गमो का बादल हटा लू हर बेसहारा और अनाथ के सर से

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
थोड़ा सा कम हो जाए जिम्मेदारी का कर्ज तो चुका लू अपने मानव होने का कर्ज

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
जो नहीं होते करीब, ना जाने वो कब बन जाते हैं नसीब

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
नहीं है मेरे पास करोड़ो का धन, मगर खुश हू की पास है एक खूबसूरत मन

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
ना जाने कब आएगा वो पहर, जब खुशी की धुन मे गुजेंगा मेरा शहर

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
किसी भी एहसास के आगे बेइंतिहा मत लगाना, किसी भी रिश्ते में कदम हद से ज्यादा मत बड़ाना

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
गम भुलाने के लिए दिवाली का मत करो इन्तजार, हर दिन और हर पल करो एक खुशी का इकरार

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
पराया दर्द मिटाना है, किसी बेसहारा को हसाना है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
दर्द की किताब हू में, घोर से देखना किसी की बेवफाई का खिताब हू में

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
परायी बेटी मे क्यूँ निकालते हो इतनी कमी, हर वक्त उसकी आँखो मे रहती है नमी

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018