Get Paid to Write Whatsapp Status Earn Rs 1000 - Rs 10000 Per Month! Click Here To Start Now

Senti Status In Hindi For Whatsapp

4 ratings by 8 votes
 
LIKE US ON If you 'like' us, we'll LOVE you!

Senti Status In Hindi For Whatsapp

Itne pyaar ke baad bhi agar tune mujhe chodh k jana hai to maine bhi tujhe rokna nahi.

By :  Radhika
Share on Whatsapp
Publised On - 05-12-2018
किसी को नहीं चाहिए रूह पर अधिकार, हर किसी को है यहा बदन स्वीकार

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 05-12-2018
तंगदिल मे भी जगह बनाना सीख लो, इच्छाओ को जीने की वजह बनाना सीख लो

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 05-12-2018
कहाँ मिलती है अब वो हया जो गहना बन कर अपना अस्तित्व करती थी बया

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 05-12-2018
कहाँ अब हया लगती सही बात है हया लगती आजकल बीती दकियानूसी रात है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 05-12-2018
 
 
मत करो किसी की इतनी कद्र की उसे ना रहे तुम्हारी फिक्र

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 05-12-2018
दूर चलना चाहते थे हम जिसके संग, वक्त आने पर बता दिया उसने अपना रंग

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 05-12-2018
जब बंद होती है पलक, उन बेसहाराओ की दिखाती है जलक

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 05-12-2018
जहा जिन्दगी खड़ी है वो लम्हा कहता है जिन्दगी से मोत बड़ी है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 05-12-2018
हमे तो खुद का साथ पसंद है अपने हाथ मे खूद का हाथ पसंद है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 05-12-2018
 
 
 
 
मुस्कान ही गम को करती है कम और जमाना पूछता है इतने खुश कैसे है हम

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 05-12-2018
एक दुआ मांगती हू, हर घड़ी एक ही मन्नत का धागा बाँधती हू

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
हर तरफ जीत की होड़, जिन्दगी का कैसा है मोड़

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
कहा रूहानी इशक मिलता है आज के इशक का दरिया बिस्तर पर बिखरता है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
कोन कहता है खामोशी खामोश है खामोशी मे छिपा अल्फाजो से भी बड़ा जोश है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 23-11-2018
Jane kyu bas yun lgta hai mai chali ja rhi hu anjani si raah par jaha na koi manzil hai na hi rasta.

By :  Pratima
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
अजीब है यह दोर मेरी अपनी गलतीया मचा रही है शोर

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
एक ही तस्वीर आँखो के आगे गुमती है, वो मासूम निगाहें मदद के लिए मुझे ढूंढती है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
नहीं चाहिए खैरात का उजाला , मान के साथ चाहिए फिर चाहे मिले अंधेरा रखवाला

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 19-11-2018
जो नहीं होते करीब, ना जाने वो कब बन जाते हैं नसीब

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
 
 
सुनो मेरी बात,आसुओं से रिश्ता नहीं जोड़ना,मुस्कान से रिश्ता नहीं तोड़ ना - कभी भी, चाहे कुछ भी हो जाए!

By :  Mithu
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
काश की बदल सकती बीता कल तो खूबसूरत बन जाता आने वाला हर पल

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
नहीं मिला वो अंजाना गगन और हमने खुद का कर लिया पतन

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
मेरी अपनी गलतियों से आया यह तूफान है , हर पल पश्चाताप का उठता एक उफान है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
मत होना नाराज मुझसे मेरे रब, तूजे माना है मैंने अपना सब

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 08-11-2018
लोगों को अल्फाजो की भी जरूरत है हमारी तो आवाज ही दिखाती हमारी सूरत है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 02-11-2018
जो कोरा पन्ना समजे वो ही अपना होता है जिसे जरूरत पडे स्याही की वो सपना होता हैं

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 02-11-2018
कैसा है यह दोर, मेरे ख्वाबों को छोड़ने का हर तरफ है शोर

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 02-11-2018
इन पलको को कोई नहीं सुखाता है हर पल कोई ना कोई रुलाता है

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 02-11-2018
जिन्हे मानते हैं सगा वो ही वक्त आने पर करते हैं दगा

By :  Arti
Share on Whatsapp
Publised On - 02-11-2018
 
 
Umeed jhooti ho ya sachii, dil ko sukun jarur deti hai.

By :  Ridhima
Share on Whatsapp
Publised On - 30-10-2018
Tere yaar batere hai, par mera to tu hi hai bas yaara.

By :  Ridhima
Share on Whatsapp
Publised On - 30-10-2018
Lagta hai dar kahi dil bechara tut na jaae.

By :  Ridhima
Share on Whatsapp
Publised On - 30-10-2018
Alag to hum ho jaenge par ye dil hume alag hone nahi denge.

By :  Ridhima
Share on Whatsapp
Publised On - 30-10-2018
Jab kismat ne hi tumhe meri jindagi me likh dia hai to kab tak mujhse dur bhagoge.

By :  Ridhima
Share on Whatsapp
Publised On - 30-10-2018
बड़ी अजीब सी तकलीफ़ है मेरी, किसे बताऊँ शायद ही कोई समझेगा..!!!!!!

By :  R.Praveen
Share on Whatsapp
Publised On - 30-10-2018
मेरे बड़प्पन को मजबूरी का नाम देने वाले, सोचती हूं सुधरने का मौका नहीं सजा ही दूंगी तुझे !समझा क्या?

By :  Mithu
Share on Whatsapp
Publised On - 22-10-2018
सच में मैं पागल तो नहीं न हो गया..!!!!!!!!

By :  R.Praveen
Share on Whatsapp
Publised On - 22-10-2018
Akhon se teri yaad aaj fir chalakh gai.

By :  Karan
Share on Whatsapp
Publised On - 19-10-2018
Jindagi me tumhari ehmiyat ka to pata nahi par haan ab tumhari jagah kisi or ko nahi de skte.

By :  Radhika
Share on Whatsapp
Publised On - 18-10-2018
Teri soch ke pare hai mera pyaar or meri pahoch ke pare hai tera pyaar.

By :  Karan
Share on Whatsapp
Publised On - 17-10-2018
Tere akelepan me bhi main kahi tere sath hu, bas jarurat hai to mujhe dhundne ki us akelepan se bahar aa kar.

By :  Karan
Share on Whatsapp
Publised On - 11-10-2018
Sach me etana badal gaya hun main..........!

By :  R.Praveen
Share on Whatsapp
Publised On - 09-10-2018
Hum pyaar karna nahi chahte wo to bas hue ja rha hai or hume pyaar me fanaah kie ja rha hai.

By :  Radhika
Share on Whatsapp
Publised On - 09-10-2018
Kya sahi kya galat hamako nahin hai pata, jina apane tarike se hai dusare ka kya jata hai yaar.!

By :  R.Praveen
Share on Whatsapp
Publised On - 09-10-2018
Jo bhi kahana tha ham kah chuke, sunanaa aur sunaanaa hai kya..Jab jange-e-halaat hi hai hingagi me to bachanaa aur bachaana hai kya.!

By :  R.Praveen
Share on Whatsapp
Publised On - 09-10-2018
Sunane aur sunaane ka vakt hi kahan, apani dhoon me hi rm jaavo................. ye hai jindagi.!

By :  R.Praveen
Share on Whatsapp
Publised On - 09-10-2018
Tujhe jarurat ho na ho meri par meri sbse badi jarurat hai to bas tu.

By :  Karan
Share on Whatsapp
Publised On - 09-10-2018
Khushi me pucha to kya pucha gum me puchte to aj jaan hajir hoti.

By :  Karan
Share on Whatsapp
Publised On - 09-10-2018
Meri najar ka hi kasoor tha jo bs tum par hi ake ruk gai

By :  Karan
Share on Whatsapp
Publised On - 09-10-2018